Hindi Shayari

  1. ख़ामोश फ़ज़ा थी कहीं साया भी नहीं था,
    इस शहर में हमसा कोई तनहा भी नहीं था,
    किस जुर्म पे छीनी गयी मुझसे मेरी हँसी,
    मैंने किसी का दिल तो दुखाया भी नहीं था..
  2. रात सुबह का इंतज़ार नहीं करती,
    खुशबु मौसम का इंतज़ार नहीं करती,
    जो भी ख़ुशी मिले उसका आनंद लिया करो,
    क्योंकि जिंदगी वक़्त का इंतज़ार नहीं करती..
  3. यूँ तो मशहूर हैं अधूरी मोहब्बत के किस्से बहुत से,
    मुझे अपनी मोहब्बत पूरी करके नई कहानी लिखनी हैं..
  4. हकीकत मोहब्बत की जुदाई होती है,
    कभी कभी प्यार मे बेवफाई होती है,
    हमारे तरफ हाथ बढाकर तो देखो,
    पता चलेगा की दोस्ती मे कितनी सच्चाई होती है..
  5. दिल में छुपा रखी है मुहब्बत तुम्हारी काले धन की तरह,
    खुलासा नहीं करता हुँ कि कही हंगामा ना हाे जाये..
  6. अच्छा हुआ कि तूने हमें तो़ड़ कर रख दिया,
    घमंड भी तो बहुत था हमें तेरे होने का..
  7. इजाजत हो तो मैं भी तुम्हारे पास आ जाऊँ,
    देखों ना चाँद के पास भी तो एक सितारा है..
  8. दोस्ती‬ का शुक्रिया कुछ इस तरह अदा करू,
    आप भूल भी जाओ तो मै हर पल याद करू,
    ‪‎खुदा‬ ने बस इतना सिखाया है मूझे,
    कि खुद से पहले मैँ आपके लिए दुआ करू..
  9. वो दर्द ही क्या जो आँखों से बह जाए,
    वो ख़ुशी ही क्या जो होठों पर रह जाए,
    कभी तो समझो मेरी ख़ामोशी को,
    वो बात ही क्या जो लफ्ज़ आसानी से कह जाए..
  10. ये याद है तुम्हारी या यादों मे तुम हो,
    ये ख्वाब है तुम्हारे या ख्वाबों मे तुम हो,
    हम नही जानते हमे बस इतना बता दो,
    हम जान है तुम्हारी या हमारी जान तुम हो..
  11. रात गुजरी फिर महकती सुबह आई,
    दिल धड़का फिर आपकी याद आई,
    आँखों ने महसूस किया उस हवा को,
    जो आपको छू कर हमारे पास आई..
  12. बातें ऐसे करो की जज्बात कभी कम न हों,
    ख्यालात ऐसे रखो कि कभी गम न हो,
    दिल में अपने इतनी जगह दे देना हमें,
    कि खाली-खाली सा लगे जब हम न है..
  13. छोड़ दो मुड़कर देखना उनको ,
    जो दूर जाया करते हैँ,
    जिनको साथ नहीं चलना होता ,
    वो अक्सर रूठ जाया करते हैँ..
  14. शक का कोई ईलाज नहीं होता,
    जो यकीं करता है कभी नराज नहीं होता,
    वो पूछते है हमसे कितना प्यार करते हो,
    उन्हे क्या पता मौहाबत का हिसाब नहीं होता..
  15. जिस दिन बंद कर ली हमने आंखें,
    कई आँखों से उस दिन आंसु बरसेंगे,
    जो कहते हैं के बहुत तंग करते है हम,
    वही हमारी एक शरारत को तरसेंगे..
  16. चुपके चुपके पहले वो ज़िन्दगी में आते हैं,
    मीठी मीठी बातों से दिल में उतर जाते हैं,
    बच के रहना इन हुस्न वालों से यारो,
    इन की आग में कई आशिक जल जाते हैं..
  17. ज़िंदगी तस्वीर भी ओर तक़दीर भी हैं,
    फर्क तो बस रंगो का हैं,
    मनचाहे रंगो से बने तो तस्वीर,
    ओर अंजाने रंगो से बने तो तक़दीर..
  18. मोहबत को जो निभाते हैं उनको मेरा सलाम है,
    और जो बीच रास्ते में छोड़ जाते हैं उनको, हुमारा ये पेघाम हैं,
    वादा-ए-वफ़ा करो तो फिर खुद को फ़ना करो,
    वरना खुदा के लिए किसी की ज़िंदगी ना तबाह करो..
  19. लाख दलदल हो ,पाँव जमाए रखिये,
    हाथ खाली ही सही,ऊपर उठाये रखिये,
    कौन कहता है छलनी में,पानी रुक नही सकता,
    बर्फ बनने तक, हौसला बनाये रखिये.
  20. आँखों के सामने हर पल आपको पाया हैं,
    अपने दिल में भी सिर्फ आपको ही बसाया हैं,
    आपके बिना हम जिए भी तो कैसे,
    भला जान के बिना भी कोई जी पाया हैं..
  21. ना डालो बोझ दिलों पर, अक्सर दिल टूट जाते हैं,
    सिरे नाज़ुक हैं दोस्ती के, जो अक्सर छूट जाते हैं,
    न रखो दोस्ती की बुनियादों में, कोई झूठ का पत्थर,
    लहर जब तेज़ आती हैं, तो घरौंदे भी टूट जाते हैं..
  22. वो न आए उनकी याद वफ़ा कर गई,
    उनसे मिलने की चाह सुकून तबाह कर गई,
    आहट दरवाज़े की हुई तो उठकर देखा,
    मज़ाक हमसे हवा कर गई..
  23. इंतज़ार क्या करना उस पल का,
    की समुन्दर चल के अपने पास आ जाये,
    अगर प्यास है तो ज़मीन को चीर कर,
    क्यों ना अपने हिस्से का समुन्दर खुद बनाया जाये..
  24. तय करना था एक लंबा सफर पर कोई हमसफ़र नहीं था,
    मुझ पे आते जाते मौसमों का कोई असर नहीं था,
    क्या खूब मिली थी उनसे मेरी नज़र किसी रोज,
    अब न मिले वो एक पल भी, तो हमको सब्र नहीं था..
  25. टूटने लगे हौसले तो ये याद रखना,
    बिना मेहनत के तख्तो-ताज नहीं मिलते,
    ढूंढ़ लेते हैं अंधेरों में मंजिल अपनी,
    क्योंकि जुगनू कभी रौशनी के मोहताज़ नहीं होते..
  26. पाना हो मंजिल को अपनी,
    तो अपने रहनुमा खुद बन जाओ.
    क्योकि अक्सर खो जाते है वो लोग,
    जो सहारा लिए किसी और की राहों पे चलते है..
  27. मुश्किलें दिलों के इरादे आज़माएंगी ,
    ख्वाबों के परदे निगाहों से हटाएंगी ,
    गिरकर तुझे है संभालना ,
    यह ठोकरें ही तुझे चलना सिखाएंगी ..
  28. तुम हकीकत नहीं हो हसरत हो,
    जो मिले ख़्वाब मैं वही दौलत हो,
    किस लिए देखती हो आइना,
    तुम तो खुद से भी ज़यादा खूबसूरत हो..
  29. इश्क़ ने हमें बेनाम कर दिया,
    हर ख़ुशी से अनजान कर दिया,
    हमने कभी नहीं चाहा की हमें इश्क़ हो,
    पर उनकी एक नज़र ने हमे नीलाम कर दिया..
  30. वजूद मेरा मेरी मोहब्बत से है,
    गरूर मुझे मेरी मोहब्बत पे है,
    चाहते होंगे मुझे और भी कई
    पर मुझे मोहब्बत सिर्फ मेरी मोहब्बत से है..
  31. कोई आँखों आँखों में बात कर लेता है,
    कोई आँखों आँखों में इकरार कर लेता है,
    बड़ा मुश्किल होता है जवाब दे पाना,
    जब कोई खामोश रहकर भी सवाल कर लेता है..
  32. जो मुस्कुरा रहा है, उसे दर्द ने पाला होगा,
    जो चल रहा है उसके पाँव में ज़रूर छाला होगा,
    बिना संघर्ष के चमक नहीं मिलती,
    जो जल रहा है तिल-तिल, उसी दीए में उजाला होगा..
  33. उठती लहरों को साहिल की दरकार नहीं होती ,
    हौसलों के आगे कोई दीवार नहीं होती ,
    जलते हुए एक चिराग ने आँधियों से कहा,
    हिम्मत है तो बुझा के दिखा ,
    जलने के लिए मुझे कोनो की दरकार नहीं होती ..
  34. सफर में मुश्किलें आये तो ज़ुर्रत और बढ़ती है ,
    कोई जब रास्ता रोके तो हिम्मत और बढ़ती है ,
    अगर बिकने पर आ जाओ तो घट जाते हैं दाम अक्सर ,
    ना बिकने का इरादा हो तो हिम्मत और बढ़ती है ..
  35. सफर में मुश्किलें आये तो ज़ुर्रत और बढ़ती है ,
    कोई जब रास्ता रोके तो हिम्मत और बढ़ती है ,
    अगर बिकने पर आ जाओ तो घट जाते हैं दाम अक्सर ,
    ना बिकने का इरादा हो तो हिम्मत और बढ़ती है ..
  36. मेरी हर दुआ में शामिल तुम होने लगे ,
    मेरी हर उदासी में खुशियां तुम बनने लगे ,
    हवा से बुझते दिए की तरह थी ज़िन्दगी हमारी ,
    तुम आये और जीने की वजह बनने लगे..
  37. प्यार का खूबसूरत एहसास तुम हो ,
    रिश्तों के मौसम में सावन की बहार तुम हो ,
    जो जो लोग कहते हैं सच्चा प्यार होता नहीं ,
    उनके हर सवालों का जवाब तुम हो..
  38. खोल दे पंख मेरे, कहता है परिंदा, अभी और उड़ान बाकी है,
    जमीं नहीं है मंजिल मेरी, अभी पूरा आसमान बाकी है,
    लहरों की ख़ामोशी को समंदर की बेबसी मत समझ ऐ नादाँ,
    जितनी गहराई अन्दर है, बाहर उतना तूफ़ान बाकी है..
  39. मुलाक़ात भी कभी आंसू दे जाती है ,
    नज़रें भी कभी धोखा दे जाती है ,
    गुजरे हुए लम्हो को याद करके देखिये ,
    तन्हाई भी कभी कभी सुकून दे जाती है..
  40. आप कह देते तो हम जीना छोड़ देते ,
    आप कह देते तो हम हर ज़िद्द छोड़ देते ,
    आप के लिए हमने सब छोड़ दिया ,
    आपने बिना कहे ही हमे छोड़ दिया ..
  41. शाम सूरज को ढलना सिखाती है ,
    शमा परवाने को जलना सिखाती है ,
    गिरने वालों को होती तो है तकलीफ ,
    पर ठोकर की हर इंसान को चलना सिखाती है ..
  42. तेरी मोहब्बत को तो पलकों पर सजायेंगे,
    मर कर भी हर रस्म हम निभायेंगे,
    देने को तो कुछ भी नहीं है मेरे पास,
    मगर तेरी ख़ुशी मांगने हम खुदा तक भी जायेंगे..
  43. मिल गया था जो मुकद्दर वो खो के निकला हूँ,
    मैं वो लम्हा हूँ हर बार रो के निकला हूँ,
    मुझे राहे दुनिया में अब कोई भी दुशवारी नहीं,
    मै तेरे खंजर के वार से हो के गुजरा हूँ..
  44. तुमसे है बेपनाह मोहब्बत हमको,
    इकरार जिसका करना चाहते है हम,
    और है अगर प्यार करना गुनाह,
    तो गुन्हेगार बनना चाहते है हम..
  45. दिल में हो आप तो फिर कोई दूसरा कैसे होगा,
    यादों में आपके सिवा कोई पास कैसे होगा,
    हिचकियाँ तो कहती है आप ही याद करते हो
    पर बोलोगे नही तो हमे एहसास कैसे होगा..